योग – वैयक्तिक से वैश्विक मूल्यों के विकास का प्रमुख आधार स्तंभ

योग शिक्षा कैसे वैयक्तिक मूल्य से लेकर वैश्विक मूल्य का आधार स्तंभ है उसका चयन करने का प्रयास किया गया है।  मानवीय मूल्यों के बारे में भारतीय और पाश्चात्य द्रष्टिकोण में समाहित समान विचारों को देखने का प्रयास किया गया है। योग मानवीय संभावनाओं को किस प्रकार उसकी अंतिम परिणति को प्रदान कर सकता है उसे भी समजाने का प्रयास किया गया है।